शेयर मार्केट में नुकसान से बचने की टिप्स | 20 Share Market Tips in Hindi 

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स, शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के तरीके, शेयर बाजार में नुकसान से बचने के लिए क्या करें, Best Share Market Tips To Avoid Loss in Stock Market in Hindi, Share Market Tips in Hindi

Share Market Tips in Hindi : जैसा की आपको पता होगा की शेयर मार्केट एक ऐसी जगह है जहां पर पैसा निवेश करके लोग अमीर भी बन जाते है साथ ही कुछ लोग कंगाल भी हो जाते है। अमीर बनने वाले लोग पूरी रणनीति के साथ शेयर मार्केट में आते है जबकि लालच की भावना रखते हुए कुछ लोग शेयर मार्केट में अपना पैसा लगा देते और बदलें में होता है नुकसान। इसीलिए आज का यह लेख शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स के ऊपर आधारित है।

  • शेयर मार्केट की दुनिया में केवल और केवल 15 से 20 प्रतिशत लोग ही पैसा कमा पाते है बाकी 80 से 85 प्रतिशत लोग अपनी लापरवाहियों के चलते पैसा गंवा देते है। 
  • ऐसी गलतियां अक्सर नए निवेशक करते है जिनको शेयर बाजार और निवेश संबंधित जानकारियां अधिक नही होती है। जिसके चलते उनको आगे चलकर काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में यह जरूरी बन जाता है की आपको शेयर में नुकसान से बचने के टिप्स कौन कौन से है यह जरूर पता होने चाहिए जिनको अपनाकर शेयर मार्केट में जो भी नुकसान आपको झेलने पड़ते है उनसे बचा जा सकता है। चलिए फिर जानते हैं कि शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के कौन-कौन से तरीके हैं?

Table of Contents hide
1 शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स | शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के तरीके

शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स | शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के तरीके

Share Market Tips in Hindi

अक्सर बहुत सारे नए निवेशक शेयर मार्केट से पैसे कमाने के चक्कर में ऐसी छोटी-छोटी गलतियां करते हैं जिनके चलते हैं आगे चलकर उनको काफी ज्यादा नुकसान होता है। इस नुकसान से बचने के लिए इंटरनेट पर शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स के बारे में वह सर्च करते हैं ताकि वह नुकसान से छुटकारा पा सके। 

WhatsApp Group 👉यहां क्लिक करें 💰

परंतु शेयर मार्केट टिप्स जान लेने से ही आप के नुकसान कम नहीं होंगे बल्कि आपको हमारे द्वारा बताए गए सभी चीजों को अपनाना भी होगा। अगर आप सिर्फ शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के तरीके पढ़ोगे और उसे अप्लाई नहीं करोगे तो आपको हमेशा नुकसान ही होगा। 

यह बेहद जरूरी है की जो भी चीजें हम आपको बताने जा रहे हैं उनको अच्छे से समझें और अप्लाई भी करें। हमने यहां नीचे Share Market Tips For Beginners के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की है।

  • Share Market के बारे में सीखें
  • सही Demat Account का चयन करें
  • कंपनी की Details को Analyse करें
  • एक ही शेयर में सारा पैसा Invest न करें
  • कम पैसों से Investment की शुरुआत करें
  • किसी से उधार लेकर पैसे Invest न करें
  • IPO में पैसा लगाने से पहले कंपनी के बारे अच्छे से जाने
  • लालच में आकर Invest न करें
  • Stock Market News वाले शेयरों से दूर रहें
  • Penny Stocks में निवेश करनें से बचे
  • Stop Loss का प्रयोग करें
  • Fundamental और Technical Analysis के बारे सीखें
  • Long Term के लिए पैसा निवेश करें
  • Circuit वाले शेयरों में पैसा न लगाए
  • शेयर का Price नही बल्कि कंपनी का Business देखें
  • Stock Market Trend को Follow करें
  • Patience बनाए रखें
  • दूसरे निवेशकों के Portfolio को Copy न करें
  • किसी के कहने पर पैसा Invest न करें
  • Risk Management का ध्यान रखें

आइए अब ऊपर लिखित शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स के विषय में विस्तार से जानकारी हासिल करते हैं।

1. Share Market के बारे में सीखें

शेयर मार्केट में सबसे ज्यादा नुकसान उन लोगों को होता है जो शेयर मार्केट के बारे में सम्पूर्ण जानकारी हासिल नहीं करते है तथा शेयर मार्केट में पैसे कमाने के चक्कर में कूद पड़ते हैं और यही उनकी सबसे बड़ी गलती होती है। अधिकतर नए निवेशक इसी वजह से शेयर मार्केट में अपना नुकसान करवा बैठते है। 

“बिना ज्ञान के शेयर बाजार में पैसा निवेश करना अंधेरे में तीर चलाने के सामान है।“

देखिए आपको यह तो पता होगा न की शेयर बाजार ऐसा जरिया है जिसके माध्यम से व्यक्ति अमीर भी हो सकता तथा कंगाल भी हो सकता है। शेयर मार्केट से अमीर वही व्यक्ति बनता है जो शेयर मार्केट के बारे के सीखता है, समझता है, फिर जाके निवेश करता है।

सीखना इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि आप अपने पैसे को दांव पर लगाते हो जिसे आप मेहनत से कमाते हो। इसलिए पैसा लगाने से पहले शेयर की आधारभूत जानकारियों को हासिल जरूर करें। नीचे दिए गए लेख को अवश्य पढ़ें। 

इन लेखों को पढ़कर आपको शेयर बाजार के बारे में काफी कुछ सीखने को मिलेगा।

2. सही Demat Account का चयन करें

एक बार जब आप शेयर मार्केट के बारे में अच्छे से सिख जाओगे तो आपका दूसरा कदम होगा डिमैट अकाउंट खुलवाना क्योंकि बिना डिमैट अकाउंट के आप शेयर मार्केट में निवेश नहीं कर सकते हो। बहुत सारे लोग लालच में आकर या फिर सस्ते ऑफर के चलते किसी भी डिस्काउंट ब्रोकर से अपना डिमैट अकाउंट खुलवा लेते हैं जिसके चलते उनको काफी परेशानियां होती है।

इसलिए यह बेहद जरूरी है की आप किसी भरोसेमंद ब्रोकर से ही अपना डीमैट अकाउंट खुलवाए। आज के समय में कई सारे ऑनलाइन डिस्काउंट ब्रोकिंग ऐप्स मौजूद है जिनकी सहायता से घर बैठे डीमैट अकाउंट खुलवाया जा सकता है। 

अभी के समय में Upstox सबसे बेहतरीन डिस्काउंट ब्रोकिंग ऐप है जिस पर आप आंख बंद करके भरोसा कर सकते हो तथा अपना डीमैट अकाउंट खुलवा सकते हो। जिसके बाद आप आसानी से शेयर मार्केट में निवेश कर सकते हो।

3. कंपनी की Details को Analyse करें

शेयर मार्केट में आप जब भी किसी भी कंपनी में निवेश करने के बारे में विचार करते हो तो आपको उस कंपनी में निवेश करने से पहले अच्छे से कंपनी के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए। किसी भी कंपनी में अपना पैसा निवेश करने से पहले निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तो आपको जरूर जानने का प्रयास करना चाहिए।

  • कंपनी कौन सा व्यवसाय करती है तथा भविष्य में उस व्यवसाय की क्या भूमिका रहेगी।
  • कंपनी ने पिछले 5 से 7 सालों में निवेशकों को कितना रिटर्न दिया है।
  • कंपनी जिस वस्तु या सेवा का व्यवसाय करती है उस वस्तु या सेवा की मांग आने वाले वक्त में रहेगी या नही?
  • कंपनी फंडामेंटल रूप से कितनी मजबूत है?
  • कंपनी के ऊपर कितना कर्ज है?
  • आने वाले वर्षों के लिए कंपनी के मैनेजमेंट ने कौन कौन से ठोस कदम उठाए है?

इसके अलावा भी कई सारी अन्य चीजे है जिनसे संबंधित रिसर्च आपको खुद से जरूर करना चाहिए।

4. एक ही शेयर में सारा पैसा Invest न करें

यदि शेयर बाजार में नुकसान नहीं करवाना चाहते हो तो कभी भी एक ही कंपनी या एक ही शेयर में अपना सारा पैसा निवेश न करें। यदि आप एक ही शेयर में सारा का सारा पैसा निवेश करोगे तो जोखिम की संभावनाएं आपके लिए और भी ज्यादा बढ़ जायेंगी।

मान लीजिए आपके पास निवेश करने के लिए 10000 रुपए है तो ऐसी स्थिति में इन 10000 है रूपयो को आप एक ही कंपनी में निवेश न करके अलग अलग कंपनियों में निवेश करें। मान लो की आपने इन पैसों को 10 कंपनियों में निवेश कर दिया। 

अब ऐसा तो हो नही सकता है की सारी कंपनियां ही एक साथ घाटे में चली जाएंगी। यदि 4 कंपनियां भी घाटे में चली गई लेकिन 6 कंपनियों ने बेहतर रिटर्न दिया तो आपको कोई नुकसान नही होगा। जबकि आप अच्छा मुनाफा कमाओगे। इसलिए निवेश में विविधता जरूरी है।

5. कम पैसों से Investment की शुरुआत करें

बहुत सारे निवेशक जब शुरू शुरू में शेयर मार्केट में निवेश करना शुरू करते है तो एक साथ बहुत सारा पैसा निवेश कर देते है और अगर उनको हानि होती है सारा का सारा पैसा डूब जाता है। जिससे उनकी आर्थिक और मानसिक स्थिति पर इसका काफी ज्यादा प्रभाव पड़ता है।

इसलिए आपको हम सलाह देना चाहेंगे की आप शुरुआत में थोड़े थोड़े पैसों के साथ निवेश की शुरुआत करें। जैसे जैसे आप सीखते जाओगे और आपको मुनाफा होता जायेगा तो उस हिसाब से आप निवेश की राशि में बढ़ोतरी कर सकते हो। इसके साथ केवल उतना ही पैसा निवेश करे जीतने पैसे का नुकसान आप सहन कर सको।

6. किसी से उधार लेकर पैसे Invest न करें

शेयर मार्केट में पैसा तभी निवेश करें जब आपके पास अपना कोई आय का स्त्रोत हो। अपने घर से पैसे मांग कर या किसी दोस्त रिश्तेदार से पैसा उधार लेकर शेयर मार्केट में न लगाए। यदि कल को आप किसी अन्य व्यक्ति से पैसा उधार लेकर निवेश करते हो तथा आपको नुकसान हो गया तो आपकी मुसीबत बढ़ सकती है।

7. IPO में पैसा लगाने से पहले कंपनी के बारे अच्छे से जाने

यदि आप चाहते हो की आपको शेयर बाजार में कम नुकसान हो या नुकसान न हो तो हर एक IPO में अपना पैसा लगाना बंद कर दें। आपको पता होगा की ज्यादातर IPO सिर्फ Bull Market की स्थिति में लॉन्च होते है जिसके कारण बहुत सारे निवेशक कंपनी उसमे निवेश कर देते है बिना यह देखे की कंपनी नई है और बिजनेस भी नया नया है।

Bull Market में IPO इसलिए ज्यादातर लॉन्च किया जाता है क्योंकि इस दौरान मार्केट में तेजी होती है तथा कंपनी की रणनीति होती है की अधिक से अधिक इस तेजी के दौरान कंपनी में निवेश करें। फिर चाहे बाद में निवेशकों को नुकसान ही क्यों न झेलना पड़े।

इसलिए यह जरूरी है की मार्केट में आने वाले हर एक आईपीओ में निवेश न करें और अगर किसी आईपीओ में निवेश करने के बारे में सोचो तो पहले उसके बारे में अच्छे से जान लें। कंपनी के वैल्युएशन और व्यवसाय के बारे में जानकारी प्राप्त करें जिसके बाद ही सही फैसला लें।

8. लालच में आकर अधिक पैसा Invest न करे

काफी सारे नए निवेशकों के साथ यह देखने को मिलता है की जब वह शेयर बाजार में निवेश करते है तथा कुछ समय बाद उनको थोड़ा बहुत लाभ होने लगता है तो वे निवेशक लालच में आकर एक साथ काफी सारा पैसा निवेश कर देते है। जिसके चलते बाद में उनको नुकसान उठाना पड़ता है। आपने कहावत भी सुनी होगी की

“लालच बुरी बला है

इसलिए शेयर बाजार में कभी भी लालच की भावना से इन्वेस्टमेंट न करें।

9. Stock Market News वाले शेयरों से दूर रहें

अक्सर न्यूज में कई सारे शेयरों के बारे में जानकारी दी जाती है और बताया है जाता है की इन शेयरों में निवेश करने से आपको भविष्य में बहुत ज्यादा फायदा होगा। लेकिन असल में वह ऐसे शेयर होते है जिन कंपनियों के फंडामेंटल मजबूत नही होते है। फिर भी ऐसे न्यूज के झांसे में नए निवेशक आ जाते है और अपना पैसा लगा देते है।

बाद में उनको जाकर नुकसान झेलना पड़ता है। इसलिए यदि आप किसी भी स्टॉक में अपना पैसा लगाने जाओ तो यह आपकी अपनी जिम्मेदारी बनती है की आप इस शेयर के बारे में अच्छे से जाने फिर जाके निवेश करने का फैसला ले।

10. Penny Stocks में निवेश करनें से बचे

जैसा की आपको मालूम होगा की बहुत सारे निवेशक अधिक शेयर खरीदने के चक्कर में पेनी स्टॉक्स खरीद लेते है इस उम्मीद में की आगे चलकर यह पेनी स्टॉक्स मल्टीबैगर पेनी स्टॉक्स बन जायेंगे और उनको भारी रिटर्न मिलेगा उनके निवेश पर। लेकिन यह बात केवल कुछ हद तक सच है। केवल 1 या 2 प्रतिशत सस्ते शेयर ही आगे चलकर मल्टीबैगर स्टॉक्स बनते है।

लगभग बहुत सी पेनी स्टॉक्स वाली कंपनियां फंडामेंटली रूप से मजबूत नही होती है। जिसकी वजह से ज्यादातर पेनी स्टॉक्स में निवेश करने से निवेशकों को अक्सर नुकसान ही उठाना पड़ता हैं। अतः आप शेयर बाजार में नए निवेशक के रूप मे आए हो तो पेनी स्टॉक्स में निवेश न करे क्योंकि इससे आपको नुकसान ही उठाना पड़ेगा।

11. Stop Loss का प्रयोग करें

सभी ट्रेडर्स और इन्वेस्टर्स को शेयर मार्केट में इस टिप को जरूर फॉलो करना चाहिए। सामान्य भाषा में नुकसान को सीमित कर देना स्टॉप लॉस का मतलब होता है। ट्रेडिंग करने वाले लोगों के लिए Stop Loss का महत्व काफी ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि ट्रेडिंग में अक्सर जोखिम की संभावना अधिक होती है।

ट्रेडिंग करने के दौरान यदि कोई स्टॉप लॉस का प्रयोग नही करता है तो उस व्यक्ति को पता भी नही चल पाएगा की कब जैसे उसकी पूंजी शून्य हो गई। लेकिन कुछ ऐसे लालची लोग भी ट्रेडिंग करने बिना स्टॉप लॉस के साथ उतर जाते है और परिणामस्वरूप सारा का सारा पैसा डूब जाता है। इसलिए स्टॉप लॉस का प्रयोग जरूर करें।

12. Fundamental और Technical Analysis के बारे सीखें

यदि आप फंडामेंटल एनालिसिस करना सीख जाते हो तो आपको कभी भी शेयर मार्केट में निवेश के दौरान जरा सा भी नुकसान नहीं होगा। फंडामेंटल एनालिसिस का अर्थ होता है किसी कंपनी के बारे में जानना, उसके व्यवसाय के बारे में जानना, निकट भविष्य में कंपनी का बिजनेस कैसा रहेगा इस बारे में जानना। 

फंडामेंटल एनालिसिस के तहत मुख्य तीन चीजों पर आपको विशेष ध्यान देना होता है।

  1. बैलेंस शीट
  2. प्रॉफिट एंड लॉस अकाउंट
  3. कैश फ्लो स्टेटमेंट

यह तीनों चीजें काफी है किसी भी कंपनी की आर्थिक स्थिति के बारे में जानने के लिए।

फंडामेंटली एनालिसिस के साथ यदि आपको टेक्निकल एनालिसिस के बारे में भी ज्ञान हो जाता है तो फिर आप बहुत ही आसानी से शेयर मार्केट के द्वारा बिना किसी नुकसान के पैसे कमा सकते हो। टैक्निकल एनालिसिस खासकर ट्रेडिंग करने वाले लोगों के लिए महत्वपूर्ण है सीखना।

13. Long Term के लिए पैसा निवेश करें

शेयर मार्केट में नुस्कान का एक और कारण है की काफी सारे लोग जल्दी लाभ कमाना चाहते है जिस चक्कर में वह छोट अंतराल के लिए निवेश करके बड़ा लाभ मिलेगा यह सोचते है। लेकिन शेयर मार्केट से एक व्यक्ति तभी अच्छा लाभ कमा सकता है जब वह लंबे समय के लिए अपने निवेश को जारी रखें।

सिर्फ 6 महीने या 12 महीने तक निवेश करके आप अधिक लाभ की उपेक्षा नहीं कर सकते हो। इससे सिर्फ आपको नुकसान ही होगा। इसलिए यदि आप चाहते हो की आपको बेहतर रिटर्न प्राप्त हो तो इसके लिए आप कम से 5 साल या 10 या फिर इससे अधिक वर्षों के लिए निवेश कीजिए तभी जाकर बेहतर लाभ मिलेंगे।

14. Circuit वाले शेयरों में पैसा न लगाए

भूलकर भी कभी भी सर्किट लगने वाले शेयर न खरीदे क्योंकि ऐसे शेयरों को खरीदना या बेचना आसान नहीं होता है। जिनको इस बारे में जानकारी नही है उनको हम यह बताना चाहेंगे की शेयर मार्केट में कुछ ऐसे स्टॉक्स होते है जिनके ऊपर Upper Circuit या Lower Circuit लगे होते है जिसके चलते उन शेयरों की कीमतों में कुछ दिन तक भारी उछाल आता है तो कुछ दिन बात भारी गिरावट आना शुरू हो जाती है।

सर्किट यानी की शेयर की कीमतों में 5%, 10%, 20% की भारी बढ़ोतरी या गिरावट से है। इसको हमने नीचे एक उदाहरण से समझाया है जिसकी मदद से आप आसानी से इस बारे में समझ पाओगे।

मान लीजिए मार्केट में कोई शेयर है जिस पर 5% अप्पर सर्किट (Upper Circuit) लगा हुआ है यानी हर रोज यह शेयर 5% तक बढ़ रहा है/ऊपर जा रहा है। इससे क्या होगा की अन्य निवेशकों की नजर जब इस शेयर पर पड़ेगी तब वह लालच में आकर इसे खरीदने लगेंगे। 

और एक बार जब वह लालच में आकर ऐसे शेयरों को खरीद लेते है तो समय रहते बेच नही पाते है जिसकी वजह से जब वह शेयर गिरने लगता है तो वह फिर 5% लोअर सर्किट (Lower Circuit) उस पर लग जाता है तो वह शेयर रोज गिरने लगता है और निवेशक इसे बेच नही पाते है जिससे उनको भारी नुकसान होता है।

अतः ऐसे शेयर में निवेश करने का सीधा मतलब है अपनी आंखों से अपनी बर्बादी देखना और चाहकर भी कुछ नही कर पाना। इसलिए इन बातों का विशेष ध्यान रखें।

15. शेयर का Price नही बल्कि कंपनी का Business देखें

एक बात हमेशा याद रखियेगा की यदि किसी शेयर की कीमत कम है तो हम यह नहीं कह सकते है की वह कंपनी अच्छी नही हैं। ठीक इसी अगर किसी कंपनी का शेयर प्राइस ज्यादा है तो हम यह भी नही कह सकते है की वह कंपनी अच्छी है। कहने का अर्थ है की शेयर की कीमतों से कंपनी के बारे में कोई भी विचारधारा न बनाए।

बल्कि यह देखें की उस कंपनी का व्यवसाय कैसा है? क्या कंपनी के व्यवसाय में मजबूती है जो आगे चलकर निवेशकों को लाभ दे सके। यदि आप कंपनी के व्यवसाय को देखकर निवेश करोगे तो आपको कभी भी शेयर मार्केट में नुकसान नही उठाना पड़ेगा।

16. Stock Market Trend को Follow करें

शेयर मार्केट में सफलता प्राप्त करनी है तो आपको स्टॉक मार्केट ट्रेंड के साथ कदम से कदम मिलाकर चलना होगा। जिस तरह से नदी के बहाव से उल्टा तैरने का प्रयास करोगे तो सिर्फ हाथ पांव मारते रह जाओगे उसी तरह से यदि आप स्टॉक मार्केट में ट्रेंड के विपरीत चलोगे तो कभी सफल नही हो पाओगे।

स्टॉक मार्केट में मुख्य रूप से ट्रेंड तीन प्रकार के होते हैं :–

  1. Uptrend 
  2. Downtrend
  3. Sideways

मार्केट में अपट्रेंड वह होता है जब बाजार में तेजी का दौर होता है, जब मंदी का दौर होता है तो उसे डाउंट्रेड कहते है और अगर मार्केट सीधे तौर पर आगे बढ़ रहा हो यानी की फ्लैट हो तो उसे साइडवेज मार्केट कहा जाता है।

यह सब बताने का तात्पर्य यह है की आपको भी मार्केट के ट्रेंड के हिसाब से चलना होगा। खासकर आपको ट्रेडिंग से पैसे कमाने है तो ट्रेंड को फॉलो करना ही होगा। 

ट्रेडिंग के दौरान आपने देखा भी होगा की मार्केट कभी ऊपर जाता है तो कभी नीचे आता हैं। कभी कभी मार्केट फ्लैट रहता हैं। अतः आपको एक बार पता चल गया या फिर आप यह पता लगाने में माहिर हो गए की लॉन्ग टर्म ट्रेड क्या है तो आप आसानी से अच्छा खासा प्रॉफिट कमा सकते हो।

17. patience बनाए रखें

शेयर मार्केट में अगर आपको लम्बा गेम खेलना है यानी की लंबे समय तक प्रॉफिट कमाना है तो आपका धैर्य रखना बेहद जरूरी हैं। ट्रेडिंग मे भी और निवेश में भी। अगर आप कोई शेयर खरीदते हो तो उसे लम्बे समय तक होल्ड करके रखें। शॉर्ट टर्म को देखकर कभी भी अपना संयम न खोए।

18. दूसरे निवेशकों के Portfolio को Copy न करें

कई सारे लोग दूसरे सफल निवेशकों के पोर्टफोलियो की नकल करते है और सोचते है की अगर हम भी अन्य सफल निवेशकों द्वारा खरीदे गए शेयरों को खरीद लेंगे तो हम भी अमीर हो जायेंगे लेकिन ऐसा नहीं होता है। अलग अलग निवेशकों के रिस्क उठाने की क्षमता अलग अलग होती है इसलिए किसी भी निवेशक की नकल न करें।

बल्कि आप उनसे सीखें। उन्होंने जो शेयर खरीदे है और जिन जिन कंपनियों में निवेश किया है उनके बारे में जाने। उसके बाद अगर आप उनके स्तर तक रिस्क उठा सकते हो तो आप निवेश जरूर करें। इसके साथ यदि किसी ने बिना रिसर्च के कोई भी शेयर खरीद लिए होंगे और आप भी उसे कॉपी करोगे तो आप भी उसी रास्ते पर चलने लगोगे।

19. किसी के कहने पर पैसा Invest न करें

अक्सर शेयर बाजार में नुकसान का एक और कारण यह भी है की कई सारे लोग बिना सोचे समझे दूसरो के कहने पर पैसा शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कर देते है। लेकिन आपको हमने पहले ही बताया है की खुद के ज्ञान और रिसर्च के आधार पर ही शेयर मार्केट में पैसा लगाए। 

यदि आप दूसरों के कहने पर 1 लाख रुपए भी लगा दोगे तो आपको नुकसान ही होगा लेकिन आप अगर सही तरीके से अपने ज्ञान के आधार पर अगर 10000 रुपए भी निवेश करोगे तो उसे आप 1 लाख बना सकते हो। इसलिए खुद रिसर्च करें न की किसी और के भरोसे रहे।

20. Risk Management का ध्यान रखें

रिस्क मैनेजमेंट का अर्थ होता है की आप एक निवेशक के तौर पर कितना जोखिम उठा सकते हो। यानी की सरल शब्दों में कहा जाए तो आपके रिस्क को मैनेज करना आपको जरूर आना चाहिए। रिस्क मैनेजमेंट आपको शेयर मार्केट में निवेश करते समय और ट्रेडिंग करते समय भी काम आयेगा। अगर आसान भाषा में कहे तो अपने पैसे को अलग अलग सेक्टरों में निवेश करें।

शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स – FAQs

Q.1 ज्यादातर लोगों को शेयर मार्केट में नुकसान क्यों होता है?

Ans :– शेयर मार्केट में अधिकतर लोगों को इसलिए नुकसान होता है क्योंकि वह खुद शेयर मार्केट के बारे न सीखकर दूसरों के कहने पर चलते हैं तथा निवेश करते है। अधूरे ज्ञान से शेयर मार्केट में निवेश करना अंधेरे में तीर चलाने के समान है।

Q.2 हम शेयर बाजार के नुकसान को कैसे दूर कर सकते हैं?

Ans :– शेयर बाजार के नुकसानों को दूर करने के लिए आपको शेयर मार्केट के बारे में सीखना होगा, सही कंपनी में निवेश करना होगा, सही स्टॉक का चयन करना होगा, फंडामेंटल और टेक्निकल एनालिसिस का ज्ञान होना जरूरी है।

Q.3 शेयर मार्केट में नुकसान कैसे होता है?

Ans :– शेयर मार्केट में नुकसान का सबसे मुख्य कारण है बिना सीखे शेयर बाजार में निवेश करने के लिए, ट्रेडिंग करने के लिए और पैसे कमाने के लिए उतर जाना। शेयर मार्केट में वाकई में नुकसान से बचना है तो शेयर मार्केट के बारे में सीखे, बेसिक जानकारी हासिल करे, फंडामेंटल और टेक्निकल एनालिसिस के बारे में जाने।

Q.4 क्या मुझे अपना पैसा शेयर बाजार से निकाल लेना चाहिए?

Ans :– यदि आप शेयर मार्केट से बेहतर रिटर्न प्राप्त करना चाहते हो तो जरूरी है की आप अपने पैसे को लंबे समय के लिए निवेशित रखें। बिना किसी जरूरी कार्य के पैसों को बाहर न निकाले।

Q.5 शेयर बाजार में लाभ के टोटके बताइये?

Ans :– शेयर बाजार में लाभ कमाने के कोई टोटके नही है। शेयर बाजार ज्ञान, अनुभव, दिमाग और धैर्य का खेल है।

Share Market Tips in Hindi – सारांश

उम्मीद करते है की इस लेख को आखिर तक आपने जरूर पढ़ा होगा और अब आप अच्छे से जान ही चुके होंगे की शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के टिप्स कौन कौन से है जिनको अपनाकर शेयर बाजार में होने वाले नुकसानों से छुटकारा पाया जा सके। साथ ही आशा करते है की आपको लेख भी जरुर पसन्द आया होगा। अगर यह लेख ज्ञानवर्धक लगे तो इसे शेयर जरूर कीजिएगा।

Sharing Is Caring:

MoneyMaker पर Share Market से संबंधित जानकारियां प्रदान की जाती हैं। साथ ही रोजाना शेयर बाजार में आने वाले उतार चढ़ाव के बारे में भी Update दी जाती है। अतः रोजाना Update पाने के MoneyMaker के Telegram का हिस्सा बनें।

Leave a Comment